भागो सेर आया

ये मेरे एक दोस्त की जुबानी एक सच्ची कहानी है . “१८ साल पहले मेनका गाँधी ने हमारे गाँव के पास टायगर छुडाये थे . इनमे कुछ चिड़िया घर तो कुछ सर्कस से थे. एक बार में और मेरा दोस्त शाम को स्कूल से लौट रहे थे . में और मेरा दोस्त छज्जू एक स्पंज… Continue reading भागो सेर आया